News

डेढ़ दर्जन अंडे, दूध,चिकन खाकर बनाई ऐसी बॉडी, US आने का मिल रहा बुलावा

खली की एकेडमी में जगाधरी के रहने वाले 27 साल के गुरविंद्र उर्फ शैंकी। शेंकी चाहते हैं की वे भी वर्ल्ड रेसलिंग में दिलीप राणा उर्फ़ खली की तरह अपने देश का नाम रोशन करे | आप को बता दे की जब अमेरिका से शैंकी का बुलावा आया था तब वे दुबाई में 5 दिन का ट्रायल दे कर आगये हैं अब और अब बस उन्हें अमेरिका से रिजल्ट आने का इन्तजार हैं | तो आईये आज हम आप को बता ते हैं शैंकी की निजी जिंदगी से जुडी कुछ बाते |

आप को बता दे की शैंकी की घरे स्थिति कुछ ज्यादा अछि नहीं हैं |शैंकी ने खली की अकेडमी में दाव पेच सीखे और इसके बाद इन्होने काफी सरे मुकाबले भी जीते हैं |जब शैंकी से उनके रोजाना सेडुल के बारे में पूछा तो उन्होंने बताय की शैंकी बताते है कि डब्ल्यूडब्ल्यूई की तैयारी के लिए वजन से ज्यादा डबल प्रोटीन लेना पड़ता है। एक अंडे में चार ग्राम प्रोटीन व 100 ग्राम चिकन में 25 ग्राम प्रोटीन मिलता है। सात फीट के शैंकी में 130 किलोग्राम वजन है। उस हिसाब से हर रोज 260 ग्राम प्रोटीन चाहिए।

प्रोटीन के लिए एक दिन में 40 से ज्यादा अंडे व एक किलो चिकन व चावल, रोटी की आवश्यकता हैं। वह फिलहाल डेढ़ दर्जन अंडे, दलिया, दो लीटर दूध नाश्ते में लेता है।
बरोकलेसनर को हराउंगा:शैंकी का कहना है कि अमेरिका में पहुंचकर डब्ल्यूडब्ल्यूई चैंपियन अमेरिका के बरोकलेसनर को हराकर देश का नाम रोशन करना है। शैंकी के पिता सरदार नरेंद्र सिंह (छह फीट) प्राइवेट नौकरी करते हैं।

मां नरेंद्र कौर (पांच फीट छह इंच) हाउस वाइफ है। वह दो बहनों का इकलौता भाई है। परिवार किराए के मकान में रहता है। महाराजा अग्रसेन कॉलेज से 2010 में बीकॉम की। दोस्तों के कहने पर 2015 में खली के इंस्टीट्यूट में ट्रेनिंग शुरू की।

शैंकी के खाने खाने में महीने के 50 हजार रुपए खर्च हो जाते हैं

Pages: 1 2 3

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top