Entertainment

बॉलीवुड की ऐक्ट्रेस भी फेल है, भारत की इन 10 खूबसूरत महिला ऑफिसर्स के आगे

आप सभी लोग ये बात जानते है की सभी का ये सपना होता है की वो आईएस और आईपीएस जैसे बड़े आफिसर बने और उन्हें अपने इस सपने को पूरा करने में कई साल भी लग जाते है क्योकि इसकी परीक्षा ही इतना कठिन होता है इसे पास करना बेहद ही मुश्किल होता है। और हम आपकी जानकारी के बता दे की इस परीक्षा के पेपर ही इतने हार्ड होते है की उसे पहली बार में तो कोई भी निकाल ही नहीं पाता है.इसी वजह से तो लोगो को ये पेपर दो से चार बार देने पड़ते है तब जाकर उन लोगो के हाथो सफलता लगती है , लेकिन हम आपको आज आपकी जानकारी के लिए बताने जा रहे है की कुछ ऐसे लोग भी है जिन्होंने देश के सबसे बड़े इस एग्जाम को एक ही बार में क्लियर कर चुके है जो की यह बेहद ही मुश्किल होता है। आज हम उन्ही के बारे में चर्चा करने जा रहे है और हम आपको उन 10 आईएस और आईपीएस आफिसर का नाम भी बताएँगे,वो लोग तो बहुत ज्यादा पढ़ाकू तो थे ही लेकिन उसके साथ-साथ उनके अंदर एक और काबिलियत थी वो थी उनकी खूबसूरती.और आपने तो वो अंग्रेजी में कहावत सुनी ही होगी ‘ब्यूटी विथ ब्रेन्स “यानि की बहुत ही कम लोगो के पास अच्छी सुंदरता और दिमाग दोनों एक साथ होते है,लेकिन आज हम आपको 10 ऐसे आईएस और आईपीएस महिला आफिसर के नाम बताएँगे, जिन्हे देखकर आप खुद ही ये कहेंगे की इन्हे कहते है ‘ब्यूटी विथ ब्रेन्स .

स्मिता सभरवाल

इस लिस्ट में सबसे ऊपर नाम आता है स्मिता जी की जिन्होंने केवल 23 साल के उम्र में इन्होने आईएएस की परीक्षा को आसानी से पास कर चुकी थी आपको हम बता दे की स्मिता ने अपने आल इंडिया रैंकिंग में इन्होने चौथा जगह प्राप्त किया।इन्होने अपना ग्रेजुएशन कामर्स से किया और इन्होने परीक्षा पास करने के बाद ही इन्हे पहली बार चित्तौर के एक जिले में रखा गया वो भी बतौर सब कलेक्टर रखा गया। इन्हिने आंध्र प्रदेश के बसत से जिलों में लगभग एक दशक तक काम किया। जिसके बाद ही इन्हे करीमनगर का डीएम बना दिया गया।

मेरिन जोसेफ

दोस्तों अगर हम बात करे मेरिन जोसेफ की तो हम आपको बता देते है की इन्होने साल 2012 में यूपीएससी के द्वारा कराये गए सिविल परीक्षा को एक बार में निकल लिया था. और उसके तुरंत बाद ही इन्होने पुलिस सर्विस में इन्होने ज्वाइन भी कर ली थी। इन्होने दिल्ली के सबसे जाने- माने कॉलेज सेंट स्टीफंस से अपने बैचलर की पढ़ाई की थी, और आपको ये भी बता दे की मेरिन जोसेफ अपने बैच की सबसे युवा आफिसर थी।

टीना डाबी

दोस्तों इनका नाम तो सभी लोग जानते होंगे क्योकि इन्होने हाल ही में 2016 में हुए यूपीएससी के पेपर में मात्र 22 साल की ही उम्र में इन्होने इस परीक्षा में पहली बार में ही टॉप करके दिखाया था। आपकी जानकारी के लिए हम बता दे की टीना डाबी की पैदाइसी ही भोपाल में हुई थी, और ये अपने परिवार वालो के साथ जब ये सातवीं में थी तभी दिल्ली आ गयी थी। इन्होने अपनी स्कूल की पढ़ाई ‘कान्वेंट ऑफ़ जीजस एंड मैरी’ से की थी इसके बाद ही टीना डाबी ने दिल्ली के लेडी श्रीराम कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स में एड्मिसन लेकर वहा से इन्होने पॉलिटिकल साइंस से ग्रेजुएशन किया।

बी चंद्रकला

दोस्तों हम आपकी जानकारी के लिए बता दे की बी चन्द्रकला का जन्म 27 सितम्बर को 1979 को आंध्र प्रदेश में हुआ था, और इस समय ये बुलंद शहर की डीएम है हम बता दे की चन्द्रकला 2008 के बैच की आईएएस ऑफिसर है इन्होने सिविल एग्जाम में 409 रैंक प्राप्त की थी। और ये ट्राइबल फॅमिली से बिलॉन्ग करती है। इन्होने अपनी ग्रेजुएशन हैदराबाद के कोटि वुमंस कॉलेज से की थी।

संजुक्ता पराशर

दोस्तों हम बता दे की संजुक्ता पराशर असम की पहली महिला ऑफिसर बानी थी। संजुक्ता साल 2006 के बैच की आईपीएस ऑफिसर है। आपकी जानकारी के लिए ये भी बता दे की संजुक्ता ने दिल्ली के इंद्रप्रस्थ कालेज से पॉलिटिकल साइंस में ग्रेजुएशन की थी। और ये तो एक बच्चे की माँ भी है इनकी पहली पोस्टिंग 2008 में मकुम में ये बतौर असिस्टेंट कमांडेंट पर लगी थी।

रिजू बाफना

हम आपको बता दे की साल 2013 में हुई परीक्षा में रिजु ने 77 वी रैंक प्राप्त की थी जिसके बाद ही वो आईएएस बन गयी थी। और इतना ही नहीं इनके पति भी एक आईएएस अफसर ही है। आपकी जानकारी के लिए हम बता दे की कुछ ही साल पहले रिजू बाफना ने एक ह्यूमन राइटस कमीशन के अफसर पर यौन उत्पीड़न की शिकायत दर्ज करवाई थी जिसके बाद ही वो काफी सुर्खियों में भी रही।

स्तुति चरण

आइये अब हम स्तुति चरण की बात करते है जो की जोधपुर की रहने वाली है इन्होने 2012 में हुई सिविल सर्विस के पेपर में इन्होने तीसरी रैंक हासिल की थी और इनकी इस कामयाबी के पीछे इनके पुरे परिवार का हाथ था। आपकी जानकारी के लिए बता दे की स्तुति ने जोधपुर यूनिवर्सिटी से बीएससी और दिल्ली के आईआईपीएम से मार्केटिंग मैनेजमेंट की पढ़ाई इन्होने की थी।

रोशन जैकब

दोस्तों केरल की रहने वाली रोशन जैकब का जन्म साल 1978 में हुआ था और साल 2004 में इन्होने यूपीएससी के एग्जाम को पास किया था और इस समय ये उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले की डीएम है।

मीरा बोरवांकर

अब हम मीरा बोरवांकर के बारे में बात करते है अब ये महाराष्ट कैडर की सीनियर ऑफिसर है इन्होने साल 1981 के बैच में आईपीएस की अधिकारी की के तौर पर इनकी नियुक्ति हुई थी, ये तो दिखने में खूबसूरत तो है ही इसके साथ ही ये पुलिस शोध एवं विकास ब्यूरो की महानिदेशक के तौर पर ये काम भी करती है आपको बता दे की मीरा बोरवांकर एक ऐसी महिला है जो महाराष्ट की पहली महिला पुलिस आयुक्त बनकर इन्होने इतिहास ही रच दिया था।

कंचन चौधरी भट्टाचार्य


आप की जानकारी के लिए हम बता दे की कंचन चौधरी भट्टाचार्य देश की एक पहली ऐसी महिला आईपीएस थी जिनको राज्य (उत्तरांचल ) का पुलिस महानिदेशक बनाया गया था। और इतना ही नहीं इन्होने साल 1973 बैच की आईपीएस अधिकारी कंचन चौधरी ने एक इतिहास ही बनाया है। इनके पति भी मुंबई के एक मल्टीनेशनल कंपनी में बिजनेस डेवलपमेंट का काम करते है।

 

source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top